TRADING NOW

recent
loading...

5 पांडवो से शादी के बाद भी खुश नहीं थी द्रोपदी, कर्ण के प्यार में हुयी पागल थी, जाने कैसे रही अधूरी प्रेम कहानी !!

महाभारत में देखने को मिला की द्रौपदी ने पांच पांडव से शादी करी लेकिन इसके बावजूद भी उनके प्यार में कमी रह गई और कर्ण को दिलों जान से चाहती थी ?


सभी को पता है कि द्रोपदी ने अर्जुन से शादी की लेकिन अर्जुन की मां ने बिना देखे ही कहा की जो भी लाये हो उसे अपने पांचों भाइयों में बांट लो तब द्रौपदी पांचों पांडवों की पत्नी बनी लेकिन क्या आप जानते हैं कि पांच पांडव की पत्नी के बाद वह अपने प्यार कर्ण की यादो में पागल थी क्योंकि मन ही मन वह कर्ण को बहुत प्यार करती थी लेकिन किसी कारणवश इनकी शादी नहीं हो पाई थी। 


पांचाल देश के द्रुपद राजा की बेटी का नाम द्रोपती थी जिसकी खूबसूरती और निडरता के अलावा इनका विवेक सभी राजा महाराजा को पसंद आ रहा था इस वजह से उनके स्वंवर के लिए काफी राजा महाराजा आए इस स्वयंवर में कर्ण की तस्वीर भी दिखाई गई जिसको द्रौपदी ने बहुत ज्यादा पसंद कर लिया और उसको मन ही मन प्यार करने लगी। 


द्रौपदी राजा कर्ण से शादी करना चाहती थी लेकिन सूतपुत्र होने की वजह से उसको पता था कि एक दासी बनकर ही रह जाएगी और इसने कर्ण को विवाह का प्रस्ताव ठुकरा दिया। 


स्वयंवर में अर्जुन से शादी करने के बाद द्रोपदी पांच पांडव की पत्नी बनी लेकिन फिर भी इनके प्यार में इतनी कमी रह गई और वह कर्ण को भूल नहीं पाई जब भीष्म मृत्युसैया पर लेते हुए थे तब वहां पर कर्ण भी आया और उसने जीवन भर द्रौपदी से प्यार करने की बात कही 


तब उसे पता चला की कर्ण भी उससे उतना ही प्यार करते हैं जितना वह करती है लेकिन महाभारत के युद्ध में अर्जुन ने कर्ण को मारकर उनकी अधूरी प्रेम कहानी को खत्म कर दिया। 

इस खबर से सबंधित सवालों के लिए कमेंट करके बताये और ऐसी खबरे पढ़ने के लिए हमें फॉलो करना ना भूलें - धन्यवाद। 


5 पांडवो से शादी के बाद भी खुश नहीं थी द्रोपदी, कर्ण के प्यार में हुयी पागल थी, जाने कैसे रही अधूरी प्रेम कहानी !! Reviewed by Deepak saini on 12:00 pm Rating: 5

No comments:

loading...

Contact Form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.